हेडा होडा द ब्लाइंड कैमल

निर्देशक: विनोद गनात्रा हिन्दी / 2003/35मिमि/हिंदी /हिंदी(अंग्रेजी उपशीर्षक)/ रंगीन /84मिनट

सार:
कच्छ के पश्चिमोत्तर शुष्क क्षेत्र में ध्रंग एक निष्क्रिय गांव है। यहाँ उनके दो बच्चे सोनू, बेटे और लक्ष्मी, बेटी के साथ युगल वालजी और धनबार्इ रहता है। युवा सोनू मान लेता है कि लोग उसकी भावनाओं को सचमुच समझ नहीं सकतें । उसके लिए आदर्श उसके पिता वालजी जिनका बहादुर रुख एक पूर्व निवासी द्वारा दिए गए जल के खतरे के खिलाफ उनके टोले की रक्षा के लिए गांव के युवाओं को एकजुट करती है । एक दिन वालजी अस्वस्थ है और सोनू परिवार की मदद करने के लिए उसके ऊंटों को स्वेच्छा से चराई के लिए ले गया । वालजी अनिच्छुक है, लेकिन अपनी पत्नी के हस्तक्षेप पर, वह दोनों बच्चों ऊंट बाहर ले जाने की अनुमति देता है। सोनू और लाखनी भोजन के लिए एक छुट्टी लेते है , ऊंट दूर चले जाते है । लखमी से थकान के कारण चला नहीं जा रहा है । सोनू एक कारीगर औरत के झोपड़ी के पास छोड़ देता है। इस बीच सोनू निर्जन प्रदेश में ऊंट दिखाई न पड़ने की वजह से खुद को अकेला पाता है। वह अनजाने में सीमा पार करता है और पाकिस्तान में किसी के घर पहुंचता है। पाकिस्तानी चरवाहा रजाक और उसकी पत्नी मरियम सोनू के साहस पर डरें और हैरान हैं। रजाक सोनू को रात में चुपके से सीमा के पार उसके ऊंटों को चेक पोस्ट पर पहुँचाने के वादे के साथ छोडता है । तथापि, यह अनुभव सोनू के लिए बाहर की दुनिया के आगे के रोमांच के द्वार खुलते है । अंत में, अच्छी भावनाओं को पीछे छोड़ ऊंट वापस घर आ गए ।

 
संगीत निर्देशक: वनराज भाटिया
कास्ट: शिवाजी साटम, सुहासिनी मुले, स्वाती दवे, परीक्षित साहनी
 
निर्देशक की जीवनी: विनोद गनात्रा
विनोद गनात्रा फिल्म उद्योग में 1983 से सक्रिय है. जबकि टीवी और भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन के साथ एक स्वतंत्र संपादक के रूप में काम कर रहे, वह अपने ही फ़िल्म निर्माण कंपनी, मॊविमान का शुभारंभ किया. उनहॊनॆ कई पुरस्कार जितॆ है. वॆ व्यापक रूप से यात्रा कर, कई अंतरराष्ट्रीय फिल्म समारोहों मॆ जूरी और चयन पैनल के निर्णायक मंडल पर सेवा की है

 

पुरस्कार
1. 13 वीं अंतर्राष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव हैदराबाद – भारत – रजत हाथी पुरस्कार 2003.
2. पुरस्कार व्यॅन्कोर फिल्म समारोह – कनाडा – 2004.
3. उद्घाटन फिल्म – हैम्बर्ग फिल्म समारोह – जर्मनी – 2004
4. रजत पुरस्कार – ला माटाटेना फिल्म समारोह – मेक्सिको – 2004
5. विशेष रूप से उल्लेख – सिने जुन द लओन फिल्म महोत्सव – फ्रांस – 2004
6. रजत पुरस्कार – काहिरा फिल्म महोत्सव – मिस्र – 2005
7. कांस्य रेमी पुरस्कार वोर्ल्द्फेस्त फिल्म समारोह – संयुक्त राज्य अमरीका – 2005
8. पेनारोमा भारतीय अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव, गोवा – भारत – 2005
9. मेरी पसंदीदा फ़िल्म पुरस्कार – निंग्बो शंघाई फिल्म महोत्सव – चीन – 2005