फिल्म ‘ब्रेकिंग द साइलेंस’ के बाल – निदेशक श्री सिद्धांत जोशी अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव , 2013 द्वारा लिखित एक पत्र के कुछ अंश….

 

“सबसे पहले नवंबर में आयोजित अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव , 2013 में सर्वश्रेष्ठ बाल–निदेशक के रूप में मुझे चुनने के लिए मैं आपके संगठन का बहुत आभारी हूँ ”

 

सभी में, यह मेरे लिए एक महान अनुभव था, और इसने मुझे बहुत प्रेरित है और उत्प्रेरित किया ।

 

अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव से पहले मैंने” सिटी ऑफ टिअर्स” और ‘ब्रेकिंग द साइलेंस’ ( जिसने आपके महोत्सव में पुरस्कार जीता) नामित दो फिल्में बनार्इ ।

 

जिन लोगों ने इस तरह के एक बड़े महोत्सव को आयोजित करने के लिए बहुत मेहनत ली और बाल चित्र समिति, भारत को अपनी कृतज्ञता व्यक्त करना इस मेल को भेजने का उद्देश्य है । एक फिल्म निर्माता बनने की मेरी यात्रा आपके महोत्सव से शुरू हुर्इ …

 

यह वास्तव में मेरे लिए एक बड़ी शुरूवात है । मेरी फिल्म मेकिंग की यात्रा अंतरराष्ट्रीय बाल फिल्म महोत्सव , 2013 में ख्याति जीतने के बाद शुरू हुर्इ . मैं आपके संगठन और अन्य परिश्रमी लोग, विशेष रूप से डा श्रवण कुमार को धन्यवाद देना चाहूँगा